मिसेज वाओ को कभी गाय नहीं चाहिए थी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Wow Vao Ko Kabhi Gay Nahin Chahiye Thi : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Name मिसेज वाओ को कभी गाय नहीं चाहिए थी / Wow Vao Ko Kabhi Gay Nahin Chahiye Thi
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 22
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

मिसेज वाओ को कभी गाय नहीं चाहिए थी का संछिप्त विवरण : मिसेज वाओ अपने आलसी पालतू जानवरों पर हंसी। क्या तुम्हें नहीं पता कि गाय केवल दो काम ही कर सकती है ? मिसेज वाओ ने कहा। गाय घास खा सकती है, और गाय दूध दे सकती है। फिर मिसेज वाओ के दिमाग में एक विचार आया। यह गाय काफी उपयोगी है। उन्होंने कहा……..

Wow Vao Ko Kabhi Gay Nahin Chahiye Thi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mrs. Vao apane Aalasi palatoo janvaron par hansi. Kya Tumhen nahin pata ki gay keval do kam hi kar sakti hai ? Misse Vao ne kaha. Gay ghas kha sakti hai, aur gay doodh de sakti hai. Phir misej vao ke dimag mein ek vichar aaya. yah gay kaphi upyogi hai. Unhonne kaha……..
Short Description of Wow Vao Ko Kabhi Gay Nahin Chahiye Thi PDF Book : Mrs. Wow laugh at your lazy pet. Don’t you know that a cow can do only two things? said Mrs. Wao. Cow can eat grass, and cow can give milk. Then a thought came to Mrs. Wow’s mind. This cow is very useful. They said……..
“अपने स्वयं के सपने साकार करें, नहीं तो कोई और अपने सपनों को साकार करने के लिए आपको काम पर रख लेगा।” फराह ग्रे
“Build your own dreams, or someone else will hire you to build theirs.” Farrah Gray

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment