मुक्तिदाता : कामिल बुल्के द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Muktidata : by Kamil Bulke Free Hindi PDF Book

Author
Category,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“जो कुछ भी इस विश्व को अघिक मानवीय और विवेकशील बनाता है उसे प्रगति कहते हैं; और केवल यही मापदंड हम इसके लिये अपना सकते हैं।” ‐ डब्ल्यू. लिपमैन
“Anything that makes the world more humane and more rational is progress; that’s the only measuring stick we can apply to it.” ‐ W. Lippmann

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

मुक्तिदाता : कामिल बुल्के द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Muktidata : by Kamil Bulke Free Hindi PDF Book 

( Download Link Given Below / डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया हैं )
muktidata-kamil-bulke-मुक्तिदाता-कामिल-बुल्के

पुस्तक का नाम / Name of Book : मुक्तिदाता / Muktidata

पुस्तक के लेखक / Author of Book : कामिल बुल्के / Kamil Bulke

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 18.9 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 206

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

पुस्तक का विवरण : प्रभु येसु मनुष्यजाति के मुक्तिदाता हैं| वे ईश्वर भी हैं और मनुष्य भी| वे मनुष्यजाति के सदस्य और प्रतिनिधि बने और हमारे सब पापों का प्रायश्चित करके उन्होंने हमको अनंत जीवन प्रदान किया है| ईश्वर होने के कारण वे इस महान कार्य की पूर्ती में समर्थ हुए मरने के बाद पुनर्जीवित होकर, उन्होंने अपने प्रेरितों को सारे संसार में भेजा जिससे वे जाकर मनुष्यजाति की मुक्ति का सुसमाचार फैलावें| उस समय पवित्र आत्मा की प्रेरणा से चार धर्मपुस्तकें लिखी गईं जो इंजील या सुसमाचार के नाम से प्रसिद्ध हैं| इन चार धर्म्पुस्तकों का विषय तो एक ही है, अर्थात प्रभु येसु की शिक्षा और जीवन-चरित्र; लेकिन उद्धेश्य और दृष्टिकोण भिन्न-भिन्न होने के कारण हर एक लेखक ने उपदेशों और घटनाओं का संकलन स्वतंत्रता पूर्वक किया है…………..

अन्य धार्मिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  “धार्मिक हिंदी पुस्तक”

Description about eBook : Lord Jesus Savior of mankind. They are God and man. Member and representative of the human race and all our sins and He has given us eternal life. God because they were able to fulfill this great work being resurrected after death, he sent his apostles so that they go to all the world the good news of the salvation of mankind Failaven. The inspiration of the Holy Spirit, which were written four Dharmpustken known as the Gospel or the Gospel. Dharmpustkon is only one of these four topics, namely education and biography of the Lord Jesus; But due to various objective and approach every single author collection of sermons and events have freely…………..

To read other Religious books click here- “Hindi Religious Books”


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें



इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“जन्म देने वाले माता पिता से अध्यापक कहीं अधिक सम्मान के पात्र हैं, क्योंकि माता पिता तो केवल जन्म देते हैं, लेकिन अध्यापक उन्हें शिक्षित बनाते हैं, माता पिता तो केवल जीवन प्रदान करते हैं, जबकि अध्यापक उनके लिए बेहतर जीवन को सुनिश्चित करते हैं।”
– अरस्तू


——————————–

“Teachers, who educate children, deserve more honour than parents, who merely gave them birth; for the latter provided mere life, while the former ensure a good life.” 
– Aristotle


Leave a Comment