किस्सागो की मोमबत्ती : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Kissago Ki Mombatti : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Name किस्सागो की मोमबत्ती / Kissago Ki Mombatti
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 17
Quality Good
Size 2.3 MB
Download Status Available

किस्सागो की मोमबत्ती का संछिप्त विवरण : “अरे, बात क्‍या है? आज ये छुटके इतने खुश क्यों हैं.” डॉना सोफ़िया ने काउन्टर के ऊपर से झाँकते हुए पूछा। “खुशखबरी क्या है? हमें भी तो सुनाओ?” डॉन रमोन ने भी जानना चाहा। “डॉन रमोन, किताबघर में वे हिस्पानी बोलते हैं !” हिल्दामार ने चहक कर ऐलान किया। दुकान में खड़े दूसरे ख़रीददारों की रुचि भी हिल्दामार की बात में जगी। “यह तो बड़ी अच्छी बात है!” वे बोले……

Kissago Ki Mombatti PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : “Are, bat k‍ya hai ? Aaj ye chhutake itane khush kyon hain.” dona sofiya ne kauntar ke oopar se jhankate huye poochha. “Khushakhabari kya hai ? Hamen bhi to sunao?” Don ramon ne bhi janana chaha. “Don ramon, kitabaghar mein ve hispani bolate hain !” Hildamar ne chahak kar Ailan kiya. Dukan mein khade doosare kharidadaron ki ruchi bhi hildamar ki bat mein jagi. “Yah to badi achchhi bat hai!” ve bole……
Short Description of Kissago Ki Mombatti PDF Book : “Hey, what’s the matter? Why are they so happy today? Donna Sofia asked, peeping over the counter. “What’s the good news? Hear us too?” Don Ramone also wanted to know. “Don Ramone, they speak Hispani in the bookhouse!” Hildamar chirped and announced. The other buyers standing in the shop also got interested in Hildamar’s talk. “That’s a great thing!” They said……
“अपना हाथ आगे बढ़ाने से कभी मत हिचकिए। दूसरे का आगे बढ़ा हाथ थामने से भी कभी मत हिचकिए।” – पोप जॉन त्रयोदश
“Never Hesitate to hold out your hand; never hesitate to accept the outstretched hand of another.” – Pope John XXIII

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment