Ahoi Ashtami / अहोई अष्टमी

अहोई अष्टमी का व्रत कार्तिक कृष्ण पक्ष की अष्टमी के दिन किया जाता है। पुत्रवती महिलाओं के लिए यह व्रत अत्यन्त महत्वपूर्ण है। माताएं अहोई अष्टमी के व्रत में दिन भर उपवास रखती हैं और सायंकाल तारे दिखाई देने के समय होई का पूजन किया जाता है। तारों को करवा से अर्घ्य भी दिया जाता है। यह होई गेरु आदि के द्वारा दीवार पर बनाई जाती है अथवा किसी मोटे वस्त्र पर होई काढकर पूजा के समय उसे दीवार पर टांग दिया जाता है। Ahoi Ashtami is a Hindu festival celebrated about 8 days before Diwali on Krishna Paksha Ashtami. According to Purnimant calendar followed in North India, it falls during the month of Kartik and according to Amanta calendar followed in Gujarat, Maharashtra and other southern states, it falls during the month of Ashvin. However, it is just the name of the month which differs and the fasting of Ahoi Ashtami is done on the same day.