दुनिया के विधान : डॉ० पट्टाभि सीतारामैय्या द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Duniya Ke Vidhan : by Dr. Pattabhi Seetaramaiyya Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Name दुनिया के विधान / Duniya Ke Vidhan
Author
Category, , , ,
Language
Pages 216
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

दुनिया के विधान पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : वीटो केवल उस समय जबकि व्यवस्थापिका सभा के दोनों भवनों मे मतभेद हो और केवल इस सीमा तक कि यदि वह चाहे तो, रीखस्ट्राट के विरोध के रहते भी रीज़स्टाग द्वारा किसी मसविदे को दो तिहाई बहुमत से पास कर देने पर, उसे जनता की राय जानने के लिये मेज सकता है। क़ानून लागू करना प्रेसीडेरश्ट कानूनों को शासन विधान के निर्देश……..

Duniya Ke Vidhan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Veto keval us samay jabaki vyavasthaapika sabha ke donon bhavanon me matbhed ho aur keval is seema tak ki yadi vah chahe to, Reekhastrat ke virodh ke rahate bhi Reichstrat dvara kisi masvide ko do tihai bahumat se pas kar dene par, use janata ki ray janane ke liye mej sakata hai. Kanoon lagu karana presiderasht kanunon ko shasan vidhan ke Nirdesh…….

Short Description of Duniya Ke Vidhan Hindi PDF Book : Veto only when the two buildings of the Legislative Assembly differed, and only to the extent that, if they so desired, the Reisstag passed a mosque with a two-thirds majority, despite Reichstraat’s opposition, to the public opinion. Can have a table. Implementing the law Directive of the President’s laws to the President’s laws …….

 

“किसी को क्या अच्छा लगता है, वैसा करना खुशी का रहस्य नहीं है, जबकि खुशी का रहस्य तो वह कार्य करना है जो कि किया जाना चाहिए।” जेम्स एम. बुर्री
“The secret of happiness is not doing what one likes, but liking what one has to do.” James M. Burrie

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment