अल्बर्ट आइंस्टाइन : विनोद कुमार मिश्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – जीवनी | Albert Einstein : by Vinod Kumar Mishra Hindi PDF Book – Biography (Jeevani)

Book Name अल्बर्ट आइंस्टाइन / Albert Einstein
Author
Category, , , ,
Language
Pages 130
Quality Good
Size 1.3 MB
Download Status Available

अल्बर्ट आइंस्टाइन का संछिप्त विवरण : पर जब हिटलर के अत्याचार बढ़ने लगे तो आइंस्टाइन को लगा कि इस मानवीय बुराई के लिए तो युद्ध ही एकमात्र उपाय है। उन्होंने परमाणु की विनाशक शक्ति को भाँप लिया और यह प्रयास किया कि इससे पूर्व जर्मनी के पास यह शक्ति पहुँचे, अमेरिका इसका इस्तेमाल करे और बुराई का समूल नाश कर दे। आइंस्टाइन सारी दुनिया के होना चाहते थे। वे समस्त मानवता के हित में प्रयास करना चाहते थे…….

Albert Einstein PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Par Jab hitler ke atyachar badhane lage to Einstein ko laga ki is manviy burai ke liye to yuddh hi ekmatra upay hai. Unhonne parmanu ki vinashak shakti ko bhanp liya aur yah prayas kiya ki isase purv Germany ke pas yah shakti pahunche, America iska istemal kare aur burai ka samool nash kar de. Einstein sari duniya ke hona chahate the. Ve Samast manavata ke hit mein prayas karna chahate the……
Short Description of Albert Einstein PDF Book : But when Hitler’s atrocities started increasing, Einstein felt that war was the only solution for this human evil. He sensed the destructive power of the atom and tried that before this power reached Germany, America should use it and destroy the evil completely. Einstein wanted to be of the whole world. He wanted to make efforts in the interest of all humanity……
“जो व्यक्ति धन गंवाता है, बहुत कुछ खो बैठता है; जो व्यक्ति मित्र को खो बैठता है, वह उससे भी कहीं अधिक खोता है, लेकिन जो अपने विश्वास को खो बैठता है, वह व्यक्ति अपना सर्वस्व खो देता है।” ‐ एलेयानोर
“He who loses money, loses much; He who loses a friend, loses much more, He who loses faith, loses all.” ‐ Eleanor

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment