मनोविज्ञान - कक्षा 12 एन. सी. ई. आर. टी. पुस्तक | Psychology - Class 12th N.C.E.R.T Books


psychology-class-12th-ncert-books-मनोविज्ञान-कक्षा-12-एन.-सी.-ई.-आर.-टी.-पुस्तक



पुस्तक का नाम / Name of Book : एन. सी. ई. आर. टी. कक्षा 12 मनोविज्ञान / N.C.E.R.T Class 12th Psychology

पुस्तक के लेखक / Author of Book : एन. सी. ई. आर. टी. / N.C.E.R.T

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 1.47 MB


पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 
(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )





पुस्तक का विवरण : मनोविज्ञान वह शैक्षिक व अनुप्रयोगात्मक विद्या है जो प्राणी (मनुष्य, पशु आदि) के मानसिक प्रक्रियाओं, अनुभवों तथा व्यक्त व अव्यक्त दाेनाें प्रकार के व्यवहाराें का एक क्रमबद्ध तथा वैज्ञानिक अध्ययन करती है। दूसरे शब्दों में यह कहा जा सकता है कि मनोविज्ञान एक ऐसा विज्ञान है जो क्रमबद्ध रूप से प्रेक्षणीय व्यवहार का अध्ययन करता है तथा प्राणी के भीतर के मानसिक एवं दैहिक प्रक्रियाओं जैसे - चिन्तन, भाव आदि तथा वातावरण की घटनाओं के साथ उनका संबंध जोड़कर अध्ययन करता है..............

अन्य एन.सी.ई.आर.टी. पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  "हिंदी एन.सी.ई.आर.टी. पुस्तक"


Description about eBook : Psychology is an educational and applicational education that performs a systematic and scientific study of the mental processes, experiences and experiences of express and latent properties of animals (humans, animals, etc.). In other words, it can be said that psychology is a science that studies the observational behavior in a sequential manner and studied by adding mental and physical processes such as - contemplation, emotion, etc. and the connection between the events of the environment.................

To read other N.C.E.R.T books click here"Hindi N.C.E.R.T Books"


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें





इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 







श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 


One Quotation / एक उद्धरण

“जन्म देने वाले माता पिता से अध्यापक कहीं अधिक सम्मान के पात्र हैं, क्योंकि माता पिता तो केवल जन्म देते हैं, लेकिन अध्यापक उन्हें शिक्षित बनाते हैं, माता पिता तो केवल जीवन प्रदान करते हैं, जबकि अध्यापक उनके लिए बेहतर जीवन को सुनिश्चित करते हैं।”
अरस्तू

--------------------------------

“Teachers, who educate children, deserve more honour than parents, who merely gave them birth; for the latter provided mere life, while the former ensure a good life.”
Aristotle






जो करते हैं हिंदी कहानियों से प्यार ! उनका यहाँ स्वागत है

Your Hindi Blog .com

कमेंट करके हमें उन पुस्तकों के बारे में जरुर बताये , जिन्हें आप डाउनलोड नही कर पा रहें

Post a Comment

 
Top