लोपामुद्रा : कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Lopamudra : by Kanaiyalal Maneklal Munshi Hindi PDF Book

lopamudra-kanaiyalal-maneklal-munshi-लोपामुद्रा-कन्हैयालाल-माणिकलाल-मुंशी



पुस्तक का नाम / Name of Book : लोपामुद्रा / Lopamudra

पुस्तक के लेखक / Author of Book : कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी / Kanaiyalal Maneklal Munshi

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 3.0MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 118

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 
(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )


पुस्तक का विवरण : ऋग्वेद के प्रसंगों और तत्कालीन महान पुरुषों के सम्बन्ध में काल्पनिक उपन्यास रचने का मेरा यह चौथा प्रयास है| ऋग्वेद का जीवन नया है| उसमें इतिहास के उषाकाल की हलचल और तेजस्विता है| इस इतिहास की तुलना में पौराणिक कथाएं नीरस लगती हैं..............

अन्य योग पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  "हिंदी योग पुस्तक"

Description about eBook : This is my fourth attempt to create a fictional novel related to the Rig Veda episodes and the great men of that era. Life of Rig Veda is new. It has a stir and tales of springtime in history. Myths seem dull in comparison to this history.................

To read other Yoga books click here"Hindi Yoga Books"


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें





इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 







श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 


One Quotation / एक उद्धरण

“हमारे द्वारा कार्य के लिए लगाए गए समय महत्त्व का इतना नहीं है, जितना महत्त्व इस बात का है कि लगाए गए समय के दौरान हमने कितनी गंभीरता से प्रयास किया।”
सिडने मैडवैड.

--------------------------------

“It is not the hours we put in on the job, it is what we put into the hours that counts.” 
Sidney Madwed








जो करते हैं हिंदी कहानियों से प्यार ! उनका यहाँ स्वागत है

Your Hindi Blog .com

कमेंट करके हमें उन पुस्तकों के बारे में जरुर बताये , जिन्हें आप डाउनलोड नही कर पा रहें

Post a Comment

 
Top