प्रेमचंद की श्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संकलन : मुंशी प्रेमचंद द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Premchand Ki Shresth Hindi Kahaniyon Ka Sankalan : by Munshi Premchand Free Hindi PDF Book

( Download Link Given Below / डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया हैं )

premchand-ki-shresth-hindi-kahaniyon-ka-sankalan-munshi-premchand-प्रेमचंद-की-श्रेष्ठ-हिंदी-कहानियों-का-संकलन-मुंशी-प्रेमचंद



पुस्तक का नाम / Name of Book : प्रेमचंद की श्रेष्ठ हिंदी कहानियों का संकलन / Premchand Ki Shresth Hindi Kahaniyon Ka Sankalan


पुस्तक के लेखक / Author of Book : मुंशी प्रेमचंद / Munshi Premchandi


पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi


पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 10 MB


कुल पन्ने / Total pages in ebook : 1170


पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )


पुस्तक का विवरण : वेदों-ग्राम में महादेव सोनार एक सुविख्यात आदमी था| वह अपने सायबान में प्रातः से संध्या तक अंगीठी के सामने बैठा हुआ खटखट किया करता था| यह लगातार ध्वनि सुनने के लोग इतने अभ्यस्त हो गए थे कि जब किसी कारण से वह बंद हो जाती, तो जान पड़ता था कोई चीज़ गायब हो गयी.............


अन्य कहानी पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  "हिंदी कहानी पुस्तक"


Description about eBook : Mahadev Sonar was a well-known man in the Vedon-village. He used to kneel in front of the fireplace from morning to evening in his penthouse. People were constantly used to hearing the sound that when it was closed due to some reason, it seemed that some thing disappeared............


To read other Story books click here"Hindi Story Books"


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें





इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 







श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 


One Quotation / एक उद्धरण

“जीवन में दो मूल विकल्प होते हैं: स्थितियों को उसी रूप में स्वीकार करना जैसी वे हैं, या उन्हें बदलने का उत्तरदायित्व स्वीकार करना।”
डेनिस वेटले

--------------------------------

“There are two primary choices in life: to accept conditions as they exist, or accept the responsibility for changing them.  
Denis Waitley






जो करते हैं हिंदी कहानियों से प्यार ! उनका यहाँ स्वागत है

Your Hindi Blog .com

कमेंट करके हमें उन पुस्तकों के बारे में जरुर बताये , जिन्हें आप डाउनलोड नही कर पा रहें

Post a Comment

 
Top